fasal sahata yojana

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2023 Fasal Sahayta Yojana 2023

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2023 Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana 2023

Bihar Rajya Fasal Sahayta Yojana 2021 – बिहार सरकार, सहकारिता विभाग ने बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किया है । इस योजना का लाभ पाने के लिए किसानों को ऑनलाइन आवेदन करना पड़ेगा । अगर आप बिहार राज्य फसल सहायता योजना से जुडी सभी जानकारी पाना चाहते है तो इस आर्टिकल को अच्छे से पढ़े | Fasal Sahayata Yojana

बिहार राज्य फसल सहायता योजना

बिहार सरकार बिहार राज्य फसल सहायता योजना के जरिये जो बिहार राज्य के किसान के फसल के लिए यह योजना चला रही है यदि किसी कृषक जन की फसल प्राकृतिक आपदाओं ,मौसम की परिस्थितियों के कारण क्षति हो जाती है तो वह सरकार द्वारा वित्तीय सहायता प्राप्त कर सकता है इसके लिए बिहार सरकार ने ऑनलाइन आवेदन मांग रखा है। यह बीमा योजना पंजीकरण किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण उनकी फसल खराब होने की स्थिति में वित्तीय सहायता प्राप्त करने में सक्षम बनाएगी। इस बिहार राज्य फसल सहायता योजना (BRFSY) में उन किसानों पर कोई प्रतिबंध नहीं है जिन्होंने पहले से ही राष्ट्रीयकृत बैंकों, सहकारी बैंकों और अन्य ऋण संस्थानों से ऋण ले रखा है। बिहार सरकार उन किसानों को भी लाभ प्रदान करेगा, जिन्होंने अन्य एजेंसियों से पैसा उधार लिया है।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 के अंतर्गत राज्य के किसानो की फसलों की वास्तविक उपज दर में 20 %तक का नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से 7500 रूपये की धनराशि सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी |तथा वास्तविक उपज दर में 20 % से अधिक फसलों का नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर की दर से 10000 रूपये तक की धनराशि प्रदान की जाएगी। यदि आप इस योजना से सम्बंधित कोई जानकारी चाहते है जैसे बिहार फसल सहायता योजना फॉर्म कैसे भरे? Bihar Fasal Sahayata Bima Yojana Online Registration Last Date? बिहार राज्य फसल सहायता योजना खरीफ 2021 आवेदन? बिहार राज्य फसल सहायता योजना क्या है ?के बारे में तो इस पोस्ट के माध्यम से प्राप्त कर सकते है।

Bihar Fasal Bima Yojana- बिहार राज्य फसल सहायता योजना

Bihar Fasal Bima Yojana का आरंभ बिहार में खेती करने वाले किसानों की फसल को प्राकृतिक आपदाएं जैसे की बाढ़, सूखा पड़ना आदि से बचाने के लिए आरंभ की गई है। इस योजना के अंतर्गत यदि किसानों की खेती को किसी प्राकृतिक आपदा के कारण कोई नुकसान पहुंचता है तो उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। बिहार राज्य फसल सहायता योजना के अंतर्गत किसानों की फसल की वास्तविक उत्पादन में 20% तक का नुकसान होने पर प्रति हेक्टेयर ₹7500 प्रदान किए जाएंगे और यदि नुकसान 20% से अधिक होता है तो प्रति हेक्टेयर ₹10000 प्रदान किए जाएंगे।इस योजना के अंतर्गत दी जाने वाली धनराशि सीधे किसान के बैंक अकाउंट में पहुंचाई जाएगी। Bihar Fasal Sahayata Yojana के अंतर्गत आवेदन करने के लिए किसानों का बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है तथा बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।

खरीफ मौसम के लिए आरंभ हुई आवेदन प्रक्रिया

बिहार राज्य फसल सहायता योजना में माध्यम से खेती करने वाले किसानों को किसी प्राकृतिक कारणों की वजह से नुकसान का सामना करना पड़ता है तो उनको सरकार द्वारा मुआवजा प्रदान किया जाता है। इस योजना के अंतर्गत खरीफ मौसम के लिए कृषि विभाग एवं सहकारी विभाग द्वारा तैयारी शुरू कर दी गई है। सरकार द्वारा आवेदन से लेकर भुगतान को तिथि निर्धारित कर दी गई है। वह सभी किसानों जो खरीफ फसल के लिए इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं वह कृषि विभाग में निबंधित किसान सहकारी विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर 31 जुलाई 2021 तक आवेदन कर सकते है। Bihar Fasal Bima Yojana के अंतर्गत फसल कटनी का प्रयोग 28 फरवरी 2022 को होगा।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना की प्रमुख विशेषताएं

  • ऑनलाइन निबंधन की सुविधा
  • सभी रैयत और गैर-रैयत किसानों के लिए
  • सभी प्रमुख फसले सम्मिलित
  • निशुल्क निबंधन एवं पंजीकरण प्रक्रिया
  • 7500 रू प्रति हैक्टेयर (20% तक क्षती होने पर)
  • 10000 रू प्रति हैक्टेयर (20% तक क्षती होने पर)

रैयत किसान ( खरीफ 2021 में ऑनलाइन आवेदन / निबंधन के लिए आवश्यक दस्तावेज)

1.आधार संख्या (पंजीकरण के लिए )

2.आधार रजिस्ट्रेशन मोबाइल नंबर (OTP के लिए )

3.आधार सम्बन्ध बैंक खता का विवरण।

4.अद्यतन भू-स्वामित्व प्रमाण- पत्र अथवा राजस्व रसीद (31 मार्च 2021 के पश्चात निर्गत)

5.स्व-घोसना-पत्र – (चयनित फसल एवं बुआई का रकवा का सही और पूर्ण विवरण )

6.आवेदक का फोटो

गैर रैयत किसान (खरीफ 2023 में ऑनलाइन आवेदन / निबंधन के लिए आवश्यक दस्तावेज)

1.आधार संख्या (पंजीकरण के लिए ।

2.आधार रजिस्ट्रेशन मोबाइल नंबर (OTP के लिए )

3.आधार सम्बन्ध बैंक खता का विवरण।

4.स्व-घोसना-पत्र (वार्ड सदस्य/ कृषि सलाहकार द्वारा सत्यापित )।

5.आवेदक का फोटो

6.एक परिवार से एक ही आवेदन मान्य

मार्च-अप्रैल 2022 को किसानों के खाते में किया जाएगा भुगतान

सरकार द्वारा 15 मार्च 2022 को यह निर्धारित किया जाएगा कि Bihar Fasal Bima Yojana के अंतर्गत किसान को कितना मुआवजा प्रदान किया जाएगा। इसके पश्चात मार्च-अप्रैल में डीबीटी के माध्यम से किसानों के खाते में भुगतान किया जाएगा। केवल उन्हीं किसान को मुअफ्ज़ा प्राप्त होगा जिन्होंने निबंधन करा लिया है। इस समय केवल सोयाबीन, धान, मक्का की खेती करने वाले किसानों के ही आवेदन प्राप्त किए जा रहे है। मक्का के लिए पूरा राज्य के किसान आवेदन करवा सकते हैं। लेकिन सोयाबीन की खेती के लिए खगड़िया, बेगूसराय और समस्तीपुर जिले के किसान ही आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा धान के निबंधन के लिए 527 प्रखंडों के किसान पात्र होंगे। भागलपुर जिले के सात प्रखंड के किसान धान के लिए अपात्र है। यह प्रखंड नारायणपुर, नवगछिया, बिहपुर ,इस्माइलपुर, गोपालपुर, खरीक एवं रंगराचौक है।

बिहार फसल बीमा के लिए जरूरी लिंक

योजना का नाम

बिहार राज्य फसल सहायता योजना

विभाग

सहकारिता विभाग

लाभार्थी

बिहार राज्य के किसान

ऑनलाइन आवेदन की आरंभ तिथि

चालू है

लाभ

7500 से 10,000 रुपए की सहायता राशि

आवेदन की प्रक्रिया

ऑनलाइन

आधिकारिक वेबसाइट

Click Here

अधिसूचना

यहाँ से डाउनलोड करे

आवेदन

पंजीकरण | लॉगिन 

हेल्पलाइन नंबर

0612) -2200693, 1800-345-6290

बिहार वृद्धजन पेंशन योजना 

Click Here

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
Scroll to Top